Sunday , November 19 2017
Home / India / हरियाणा की छोरी दुबई में विदेशी पहलवानों को धूल चटाएगी

हरियाणा की छोरी दुबई में विदेशी पहलवानों को धूल चटाएगी

हरियाणा की धाकड़ छोरी  कविता दलाल दुबई में विदेशी पहलवानों को धूल चटाएगी

आमिर खान की दंगल के रिलीस होने के बाद हरियाणा  की धाकड़ छोरियों गीता और बबिता फोगट  ने  दुनिया भर का धयान अचानक ही महिला कुश्ती की और खीचा था| अब हरियाणा की ही एक और बेटी व बागपत की बहु कविता दलाल उर्फ़ हार्ड केडी प्रोफेशनल कुश्ती में नया इतिहाश रचने जा रही है| कविता दुबई में प्रोफेशनल कुस्ती में विदेसी पहलवानों को चुनोती देगी | डब्लू डब्लू इ चैंपियन में इनका सामना १५-१८ विदेसी महिला पहेलवानो से होगा २५-२९ अप्रैल तक चलने वाली इस प्रतियोगिता में कविता पहले दिन ही नॉक आउट राउंड में भिड़ेंगी  लेडी खली के नाम से महसूर कविता फिलहाल खली की जालंधर स्थित एकेडेमी में ज़मकर पसीना बहा रही हैं |

हरियाणा की छोरी दुबई में विदेशी पहलवानों को धूल चटाएगी
हरियाणा की छोरी दुबई में विदेशी पहलवानों को धूल चटाएगी

कविता 2016 से खली  एकेडेमी में  प्र्शिकश्र्ण प्राप्त कर  रही है



कविता को प्रोफेसनल कुश्ती में आए सिर्फ सात माह

कविता को प्रोफेसनल कुश्ती में आए सिर्फ सात माह हुए है लेकिन उसने अपनी प्रतिभा से सबको चोका दिया है अक्टूबर में हरियाणा के पानीपत में अपने इंटरनेशनल रतिओनाल रेसलिंग चैंपियन शिप में सबको धधुल चटाकविता ने गोल्ड मैडल जीता था यह कविता ने अमेरिकन की दो और एक कनाडा की पहलवान को हराया था

कविता ने अपनी पढ़ी करने के बाद २००४ में लखनऊमें रेसलिंग का प्रक्शिक्षर शुरु किया कविता को लेडी खली भी कहा जाता है २००८ में कविता का कास्टेबल के पद पर एस एसबी में चयन हो गई २००९ में कविता की बागपत की बिज्वाडा गाव निवासी गौरव से साडी हुई गौरव भी एस एसबी में कोस्तेब्ल है

कुश्ती के लिए छोड़ी सरकारी नोकरी

डयूटी के साथ साथ कुश्ती को पूरा समय दे पाना संभव नही हुआ तो कविता ने २०१० में नोकरी छोड़ दी कविता का कहना है की मेरे फैसले में पीटीआई गौरव कुमार के साथ साथ ससुराल वालो ने पूरा साथ दिया गौरव भी वोलीबाल के खिलाडी है|

वेट लिफ्टिंग में भी पदक जीता |



रेसलिंग से पहले कविता वेट लिफ्टिंग में भी कई पदक जित चुकी है |२००४ से २०१४ तक उन्होंने कई राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय पतियोगिता में भाग लिया है |2016

में कविता ने साउथ एशियन गेम्स में सवर्ण पदक जीता |

सुबह  का नास्ता 

कविता सुबह के नसते में 6 केले , 6 अन्डे ,  2 li दूध 30 बादाम की गिरी 9 ब्रेड जेम के साथ |

loading...

About sushil singh

Check Also

birth of test cricket

Do You Know The birth of test cricket And its is Held between

The birth of  test cricket And its is Held between The name Test stems from …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *